कुल्लूधर्म संस्कृतिबड़ी खबरराजनीतिहिमाचल प्रदेश

ब्यास व पार्वती नदी के संगम भुुंतर में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बनेगा भव्य संगम घाट -सुंदर सिंह ठाकुर

कहा-वन विभाग के द्वारा संगम घाट और नेचर पार्क का किया जाएगा निर्माण

मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर ने व्यास पार्वती नदी के संगम स्थल भुंतर में संगम घाट निर्माण को लेकर किया निरीक्षण
न्यूज मिशन

कुल्लू

देव भूमि कुल्लू जिला के भुंतर में स्थित व्यास और पार्वती नदी के संगम स्थल में साल भर पवित्र स्नान के लिए देवी देवताओं के साथ-साथ हजारों की संख्या में लोग पहुंचते हैं ऐसे में इस स्थान पर अब मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर के प्रयासों से भव्य संगम घाट का निर्माण किया जाएगा जिसको लेकर मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर, डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग,तहसीलदार भुंतर गणेश ठाकुर सहित वन विभाग ब लोक निर्माण विभाग के अधिकारी मौजूद रहे इस दौरान मुख्य सचिव सचिव सुंदर सिंह ठाकुर ने संगम घाट निर्माण को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश दिए।

 

मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा कि व्यास और पार्वती नदी के संगम स्थल भुंतर में संगम घाट निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भुंतर शहर के समीप व्यास और पार्वती नदी पवित्र संगम स्थल धार्मिक आस्था से जुड़ा है उन्होंने कहा कि भुंतर शहर के स्थानीय संगठनों और नगर पंचायत भुंतर के सहयोग से संगम स्थल से झुग्गी झोपड़ी को हटाकर संगम घाट निर्माण के लिए सामूहिक तौर पर प्रयास किया जा रहा है उन्होंने कहा कि संगम घाट को सुंदर बनाने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा खूबसूरत कार्ड का निर्माण किया जाएगा जिसमें पहले चरण में 20 भादो के पवित्र स्थान पर इसका शुरुआत की जाएगी उन्होंने कहा कि भविष्य में व्यास आरती और आरती संगम के रूप में धार्मिक गतिविधियां शुरू की जाएगी उन्होंने कहा कि सभी धर्मों के लोगों के लिए घाट में पवित्र स्नान की सभी सुविधाएं की जाएगी जिसमें देवी देवताओं के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों और शहरी क्षेत्रों से धार्मिक संगम पर पवित्र स्नान के लिए लोग बड़ी संख्या में आते हैं ऐसे में उनको यहां पर उचित सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि कुल्लू जिला में विभिन्न विकासात्मक योजनाओं को लेकर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के आशीर्वाद से जनता के लिए संगम घाट में विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी जिसमें वन विभाग के द्वारा संगम घाट और नेचर पार्क निर्माण का निर्माण किया जाएगा उन्होंने कहा कि भुंतर संगम स्थल पर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय वीरभद्र सिंह की अस्थियां विसर्जित की गई है ऐसे में भविष्य में इस घाट को उनके नाम से भी जोड़ा जाएगा जिससे संगम स्थल में महान विभूतियों की स्मृतियां को याद किया जाएगा।

ब्राह्मण जन कल्याण सभा के प्रदेश अध्यक्ष मनमोहन शर्मा ने कहा कि मुख्य संसदीय सचिव सुंदर सिंह ठाकुर के द्वारा भुंतर में धार्मिक आस्था का केंद्र व्यास और पार्वती नदी के संगम स्थल पर देवी देवताओं और स्थानीय लोग पवित्र स्नान के लिए पहुंचते हैं ऐसे में इस स्थान पौराणिक धार्मिक और वैज्ञानिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है उन्होंने कहा कि जहां व्यास कुंड से वस नदी और मानतलाई से पार्वती नदी के उद्गम स्थल है ऐसे में विपिन देव स्थलों का पानी व्यास और पार्वती नदी के जल में समाहित होता है जिसमें पवित्र स्नान करने से कई तरह के दोषों निवारण होता है। उन्होंने कहा कि भुंतर संगम स्थल पर संगम घाट निर्माण से धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा इसके साथ-साथ लोगों को पवित्र स्नान के लिए सुविधाएं मिलेगी उन्होंने कहा कि जिस प्रकार देश में हरिद्वार गंगा पर घाट है उसी तरह व्यास और पार्वती नदी के संगम स्थल भुंतर में धार्मिक आस्था का केंद्र बनेगा जहां पर देवी देवताओं के साथ-सथ देश भर से लोग संगम पवित्र स्नान के लिए आएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Trending Now